पंजाब संयोजक पद से हटाए गए गुरप्रीत घुग्गी ने आम आदमी पार्टी छोड़ी
एम4पीन्यूज|पंजाब
संयोजक पद से हटाए गए गुरप्रीत घुग्गी ने आम आदमी पार्टी छोड़ दी है। इस्तीफा देने के बाद गुरप्रीत घुग्गी ने कहा कि मेरा भगवंत मान या किसी अन्य व्यक्ति विशेष से कोई विरोध नहीं है। भगवंत मान के साथ मैं काफी काम कर चुका हूं और नाराजगी भगवंत मान के प्रधान बनाए जाने को लेकर नहीं है।
– गुरप्रीत घुग्गी ने कहा, “मैं पंजाब आप का संयोजक नहीं बनना चाहता था, ऐसे ही संयोजक बना दिया गया”।
– घुग्गी ने कहा कि, “मैंने हमेशा पार्टी को मजबूत करने का काम किया है”।
– उन्होंने कहा संयोजक पद से हटाने से मुझे कोई फर्क नहीं पड़ता।
-मैंने धर्मवीर गांधी को प्रधान बनाने बनाने की मांग की थी।
– मैं पंजाब में पार्टी का प्रधान था, लेकिन मुझे सुच्चा सिंह छोटेपुर के हटाए जाने वाला स्टिंग नहीं दिखाया गया।
– घुग्गी ने कहा, “मुझे भगवंत के अंडर काम करने के लिए फोर्स किया जा रहा था”, भगवंत को शराब छोड़ने की एवज में पार्टी संयोजक बनाया गया।
– घुग्गी ने आरोप लगाया कि चुनाव हारने के बाद केजरीवाल अब तक पंजाब क्यों नहीं आए।
उन्होंने कहा कि मैं भारी मन के साथ पार्टी की प्राइमरी मेंबरशिप से इस्तीफा देता हूं। पंजाब के लिए कभी भी खड़ा होना पड़ेगा तो काम करता रहूंगा। लेकिन अब आम आदमी पार्टी के साथ काम करना अब मुमकिन नहीं है।
दो दिन पहले ही घुग्गी को कन्वीनर पद से हटा था…
– सोमवार को दिल्ली में हुई आम आदमी पार्टी की मीटिंग में सुप्रीमो अरविंद केजरीवाल ने पंजाब कन्वीनर की पोस्ट खत्म कर दी थी और प्रदेश प्रधान की नई पोस्ट बना दी थी।
– सांसद भगवंत मान को प्रधान बनाया गया है और सुनाम से विधायक अमन अरोड़ा को उप-प्रधान। कन्वीनर गुरप्रीत घुग्गी काे हटाकर यह पोस्ट ही खत्म कर दी गई थी।
– इस फैसले के बाद से सुखपाल सिंह खैहरा, गुरप्रीत सिंह घुग्गी समेत कई नेता नाराज थे और खैहरा ने चीफ व्हिप और प्रवक्ता पद से इस्तीफा दे दिया था। बुधवार को घुग्गी ने पार्टी छोड़ दी।
Courtesy: Punjab Khabar Update
Recommend to friends
  • gplus
  • pinterest

About the Author

Leave a comment