अमेरिका के सिनसिनाटी में 12 जुलाई घोषित हुआ डॉ शिवानंद डे
Reading Time: < 1 minute
एम4पीन्यूज

भारत योग गुरु के रूप में विश्व भर में जाना जाता है और आज फिर आवश्यकता है की भारतीय योगी,योग के द्वारा विश्व को एक सकारात्मक मार्गदर्शन दे हाल ही के अमेरिकी दौरे में डॉ अवधूत शिवानंद जी ने जो अमेरिका में किया, वह इस सपने को साकारकरने में बड़ा ही सटीक सावित हो रहा है। चिकित्सा तथा कृषि के क्षेत्र में जो ज्ञान हम भूले हुए थे उसको फिर से उजागर किया फादर ऑफ़ इंडियन हीलिंग डॉ अवधूत शिवानंद जी ने जन-साधारण के लिए।

भारत ही नहीं अपितु विकसित देशों  के साधारण नागरिक तथा चिकित्सक भी अब इस ज्ञान को डॉशिवानंद जी से प्राप्त कर रहे है।

अभी के अमरीका दौरे में एक ओर तो डॉ अवधूत शिवानंद जी सम्मान में विभिन्न प्रांतीय सरकारेंशिवानंद डे घोषित कर तथा अतिविशिष्ट अवार्ड देने में लगी हैं, पहले न्यू यॉर्क के नासाउ काउंटी के कम्पट्रोलर ने १२जुन , फादर्स डे को शिवानंद डे मानाने की घोषणा की, अब 12 जुलाई को अमेरिका के सिनसिनाटी प्रान्त  के मेयर  माननीय श्री जॉन कारनले ने 12 जुलाई 2017  को डॉ अवधूत शिवानंद डे मानने की घोषणा की है। वहीँ दूसरी ओर इस ज्ञान को जानने के लिए विभिन्न

चिकित्सा विश्विद्यालयों में मानो होड़ सी लग गयी है

 नाटिक, मस्सचुसेट्ट्सतथा रोबर्ट वुड जॉनसन मेडिकल कॉलेज, न्यू जर्सी के बादअब सिनसिनाटी यूनिवर्सिटी के कॉलेज ऑफ़ मेडिसिन ने

 उन्हें 13 जुलाई 2017 को अपने चिकित्सको तथा विद्यार्थोयों को कॉस्मिक मेडिसिन के विषयमें जानकारी देने के लिए निमंत्रित किया। सिनसिनाटी  यूनिवर्सिटी  के डॉ जेम्स डोनोवन ,एम् डी ,  हेड ऑफ़ ऑफ़ यूरोलॉजीडिपार्टमेंट , भी कार्यक्रम में उपस्थित थे।

इस अवसर पर, सिनसिनाटी यूनिवर्सिटी के हेल्थ सिस्टम विभाग के प्रेजिडेंट & सी ई ओ , रिचर्ड  पी लफ़ग्रेन, ने डॉ अवधूत शिवानंद जी

को उनके कॉस्मिकविज्ञान तथा मेदितत्वे मेडिटेटिव हेल्थ टेक्निक्स के क्षेत्र में किये गए कार्यों के लिएसम्मान पत्र प्रदान किया। सिनसिनाटी  यूनिवर्सिटी  के डॉ जेम्स डोनोवन ,एम् डी, हेड ऑफ़ यूरोलॉजी डिपार्टमेंट , भी कार्यक्रम में उपस्थित थे। इस  विज्ञानं को समझने के लिए लगभग 90 डॉक्टर उपस्थित थे।

Recommend to friends
  • gplus
  • pinterest

About the Author

Leave a comment