खुदाई से पहले ही डेरे ने माना पेड़ों के नीचे निकली अस्थियां
Reading Time: 2 minutes

डेरे में अस्थियां दबाकर उसके ऊपर पेड़ लगाए गए हैं

एम4पीन्यूज| सिरसा
गुरमीत राम रहीम के जेल जाते ही डेरा सच्चा सौदा पर नए-नए खुलासे हो रहे हैं। इन्हीं के बीच डेरे से मुंह मोड़ चुके लोगों द्वारा खुलासा किया गया था कि डेरे के अंदर नरकंकाल दबे हैं। अगर डेरे की खुदाई करवाई जाती है तो अंदर से हड्डियां निकल सकती हैं। अब डेरा के मुखपत्र सच कहूं अखबार ने लिखा है कि हां, डेरे में अस्थियां दबाकर उसके ऊपर पेड़ लगाए गए हैं।
 – अखबार ने डेरे की तरफ से स्पष्टीकरण देते हुए लिखा है कि डेरे में नरकंकाल की खबरें मनगढ़ंत व झूठी है। दरअसल सच्चाई ये है कि मरणोपरांत अस्थियों के विसर्जन को पर्यावरण सुरक्षा से जोड़कर डेरा सच्चा सौदा ने मुहिम चलाई थी।
– इसके बाद जिन लोगों के परिजनों का देहांत हो जाता था, उनकी अस्थियों को गंगा या अन्य नदियों में बहाने की बजाए डेरा के सेवादारों को सौंपते थे। इसके बाद डेरा के सेवादार विशेष विधि से इन अस्थियों को जमीन में दफना कर उस पर पौधा लगा देते थे।
– गौरतलब है कि डेरे के मुखपत्र में प्रकाशित यह खबर डेरे की तरफ से स्पष्टीकरण माना जा रहा है।
हरियाणा के शिक्षा मंत्री द्वारा दिए 51 लाख रुपये पर भी दिया है स्पष्टीकरण
– हरियाणा के शिक्षा मंत्री रामबिलास शर्मा द्वारा डेरा प्रकरण से ठीक पहले 15 अगस्त को गुरमीत राम रहीम द्वारा मनाए गए 50वें जन्मदिन पर 51 लाख रुपये पर भी अखबार में स्पष्टीकरण छपा है।
– लिखा गया है कि यह पैसे रामबिलास शर्मा ने डेरे में बन रहे खेल गांव के लिए दिए थे। पैसों की सिर्फ घोषणा की गई थी।
बाबा की फिदायीन ब्रिगेड पर भी स्पष्टीकरण
– टीवी चैनलों पर चल रही खबरों में बाबा की फिदायीन ब्रिगेड बताई गई है।
– इस पर कहा गया है कि डेरा द्वारा मानवता व भलाई के काम करने के लिए सोशल वेल्फेयर फोर्स बनाई गई है। जिसमें देशभर से 70 हजार मैंबर है।

Recommend to friends
  • gplus
  • pinterest

About the Author

news

Truth says it all

Leave a comment