साईकिल रेस में हारे ‘मुलायम’, अखिलेश को मिली जीत
Reading Time: 1 minute

-अखिलेश को मिली साईकिल और पार्टी का नाम

एम4पीन्यूज। दिल्ली  

‘साइकिल’ चुनाव निशान मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को मिल गया. चुनाव आयोग ने अभी यह फैसला सुनाया है. उत्तर प्रदेश में पहले चरण की चुनावी प्रक्रिया के तहत नामांकन दाखिल करने में काफी कम समय बचा है ऐसे में यह फैसला अखिलेश यादव के लिए बेहद राहत की खबर है. यह फैसला मुलायम सिंह यादव के लिए बड़ा झटका है. राज्य में सात चरणों में मतदान होंगे. मतदान 11 फरवरी से शुरू होगा.

 

यूपी में सत्ताधारी समाजवादी पार्टी में चुनाव चिह्न विवाद पर चुनाव आयोग आज अंतरिम आदेश पारित कर दिया है. अखिलेश यादव को पार्टी का नाम और चुनाव चिन्ह दोनों मिल गया है. मुख्य चुनाव आयुक्त नसीम जैदी की अगुवाई में आयोग ने शुक्रवार को दोनों पक्षों की दलीलें सुनी थीं और अपना आदेश सुरक्षित रख लिया था. आयोग आज आदेश पारित कर दिया है.

 

चुनाव आयोग ने 9 तारीख तक दोनों पक्ष से हलफनामे के जरिए ये बताने को कहा था कि किस पक्ष के पास कितने विधायकों का समर्थन है ? दोनों पक्षों के इन्हीं हलफनामों का अध्ययन करने के बाद चुनाव आयोग ने 50%+1 के आधार पर अखिलेश को पार्टी को साइकिल निशान दिया. अखिलेश यादव को इस बात की जानकारी दे दी गई है.

 

आपको बता दें दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद मुलायम सिंह से पूछा था कि क्या आपकी पार्टी में कोई टूट है तो मुलायम ने कहा था कि नहीं कोई टूट नहीं है. इस पर जब चुनाव आयोग ने पूछा था कि अगर कोई टूट नहीं है तो फिर साइकिल निशान किसे दिया जाए. इस पर मुलायम ने कहा था कि हमें दिया जाए. इसी बात पर चुनाव आयोग ने दोनों पक्षों में फूट की बात मानी थी.

Recommend to friends
  • gplus
  • pinterest

About the Author

Leave a comment