SYL मुद्दा : कल बंद रहेगी अंबाला से पंजाब तक की रोड, ये है नया रूट प्लान
Reading Time: 2 minutes
एम4पीन्यूज।चंडीगढ़

कल अंबाला से पंजाब की ओर जाने वाला सारा ट्रैफिक डिस्टर्ब रहेगा। एसवाईएल की खुदाई को लेकर इनेलो के आंदोलन के आह्वान पर अंबाला की ट्रैफिक पुलिस ने भी कमान संभाल ली है। लेकिन अगर किसी कारण से जरूरी जाना है तो इसके लिए नया रुट प्लान जारी कर दिया गया है।

एसपी अंबाला अभिषेक जोरवाल के निर्देशों पर ट्रैफिक पुलिस ने अपनी रणनीति तैयार की है, जिससे अंबाला से पंजाब की ओर जाने वाले लोगों को किसी प्रकार से परेशानियों का सामना न करना पड़े। एसपी अंबाला ने इस ट्रैफिक प्लान का अवलोकन करने के बाद इसे 23 फरवरी को लागू करने की अनुमति दे दी है।

सवा लाख वाहनों की आवाजाही :
नेशनल हाइवे नंबर एक से अंबाला ही पंजाब का एंट्रेस प्वाइंट है। रोजाना यहीं से करीबन सवा लाख वाहनों की आवाजाही है। लेकिन 23 फरवरी को एसवाईएल मसले पर इनेलो द्वारा किए जाने वाले आंदोलन के मद्देनजर अंबाला पुलिस को अंदेशा है कि हालात बिगड़ सकते हैं।

वैसे तो पुलिस ने इनेलो वर्करों को चेतावनी देते हुए कहा है कि वे जाम लगाने जैसी मंशा से दूर रहें, लेकिन फिर भी अंबाला पुलिस को अंदेशा है कि 23 फरवरी को जाम जैसी स्थिति पैदा हो सकती है। इसलिए उन्होंने पहले से ही अपना ट्रैफिक डायर्वजन प्लान तैयार कर लिया है।
कल इस तरह रहेगा ट्रैफिक का नया रूट :
– 23 फरवरी को सुबह 8 बजे से वाहनों को कई स्थानों से डायवर्ट किया जाएगा।
– इसके लिए जिला पुलिस अंबाला द्वारा अलग-अलग स्थानों पर 10 नाके लगाए जाएंगे।
– एनएच कुरुक्षेत्र साइड से पंजाब जाने वाली गाड़ियों को मोहड़ा से वाया जनसुई हेड जाना होगा।
– किंग फिशर, बलदेव नगर चौंक, सुल्तानपुर चौंक, सरसेहड़ी से लोहगढ़ टी-प्वाइंट से जाना होगा
– अंबाला के थाना बलदेव नगर के सामने, कालका चौक, मंजी साहब गुरुद्वारा से जो वाहन आएंगे, उन्हें पंजाब जाने के लिए चंडीगढ़ रोड़ से जाना होगा।
– हिसार-कैथल रोड से पंजाब जाने वाले वाहनों के चालकों को मटहेड़ी चौक से नन्यौला साइड से गुजारा जाएगा

पटियाला प्रशासन ने लगाई धारा-144 :
पटियाला क्षेत्र में प्रशासन ने धारा-144 लगा दी है। इसके तहत किसी को भी 23 फरवरी को पंजाब बार्डर पर एकत्रित होने की अनुमति नहीं होगी। इनेलो के इस आंदोलन को निपटने की रणनीति भी बना ली गई है। पंजाब पुलिस ने बार्डर पर मोर्चा संभाल लिया है। पंजाब सीमा में किसी को भी आंदोलन की मंशा से जुटने की कतई अनुमति नहीं रहेगी। इनेलो के वर्करों को आंदोलन की नीयत से पंजाब में दाखिल होने की भी अनुमति नहीं रहेगी।

अंबाला प्रशासन ने बनाई धारा-144 से दूरी :
अंबाला प्रशासन ने इनेलो के आंदोलन को लेकर अपनी रणनीति बना ली है। हरियाणा पुलिस ने अपना मोर्चा संभाल लिया है। इनेलो को हाइवे किनारे सिटी नई सब्जी मंडी में सिर्फ जुटने की सशर्त अनुमति दी गई है। यहां कोई रैली की अनुमति नहीं है। जुटने की सशर्त अनुमति के बाद अंबाला में धारा-144 नहीं लग सकती। लेकिन इस सारे मसले के लिए एडीसी अंबाला को नोडल अफसर नियुक्त किया गया है। एसडीएम हेडक्वार्टर को नई सब्जी मंडी साइट पर व एमसीए के ज्वाइंट कमिश्नर को शंभू टोल बार्डर पर बतौर ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त कर दिया गया है।

Recommend to friends
  • gplus
  • pinterest

About the Author

Leave a comment