नोट जमा करवाने को नहीं लगानी होगी लम्बी लाइन, मिलेगी राहत
Reading Time: 2 minutes

‘बल्क नोट एक्सेप्टर’ के जरिये जमा होंगे नोट

एम4पीन्यूज, चंडीगढ़।

अब पुराने नोट जमा कराने के लिए आपको ज़्यादा परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा। न ही लम्बी लाइन लगानी पड़ेगी और न ही पूरा दिन धक्के खाने पड़ेंगे। 500 और 1000 रुपये के नोट जमा कराने के लिए एक नई सुविधा शुरू की गई है।

दरअसल, बैंकों में लॉक कर दी गई नोट जमा करने वाली मशीनें नए बदलाव के साथ जल्द ही चालू होने वाली है। इन मशीनों में एटीएम कार्ड से ही नोट जमा किए जा सकेंगे। इसके लिए मशीनों में नया साफ्टवेयर इंस्टाल किया जा रहा हैं। मशीनें चालू होने से नोट जमा करवाने वालों को बैंकों में लंबी लाइन में नहीं लगना पड़ेगा। साथ ही बैंक कर्मचारियों पर भी काम का बोझ कम होगा। अधिकतर बैंकों में नोट जमा करने के लिए बीएनए (बल्क नोट एक्सेप्टर मशीनें) हैं। पांच सौ और एक हजार रुपये के नोट बंद होने से पहले बैंक के ग्राहक इन मशीनों से ही अपने खाते में रकम जमा करवाते थे। इस मशीन में कोई भी व्यक्ति किसी के खाते में रकम जमा करवा सकता था, बशर्ते उसे खाताधारक का नाम और अकाउंट नंबर पता हो।

बल्क नोट एक्सेप्टर में होगा बदलाव :

नोट बंदी के बाद मशीन के दुरुपयोग के मामले सामने आने पर बैंकों में इनका इस्तेमाल बंद कर दिया गया था। मशीनें बंद होने से बैंक कर्मचारियों पर काम का बोझ काफी अधिक बढ़ गया। उन्हें नोट एक्सचेंज करने के साथ-साथ बंद किए गए नोट भी जमा करने पड़ रहे हैं। बैंकों की भीड़ को कम करने के लिए आरबीआई के निर्देश पर बल्क नोट एक्सेप्टर में नोट जमा करने की प्रक्रिया में थोड़ा बदलाव किया जा रहा है।

बल्क नोट एक्सेप्टर में नया साफ्टवेयर इंस्टाल किया जा रहा है। इससे नोट जमा करने वाले व्यक्ति को पहले अपना एटीएम कार्ड बीएनए में स्वैप करना पड़ेगा। इसके बाद मशीन में नोट जमा की प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। रकम उसी खाते में जमा होगी, जिस खाते के एटीएम कार्ड से मशीन में स्वैप किया गया है। बिना एटीएम कार्ड से बीएनए में नोट जमा नहीं हो पाएंगे। इसका एक फायदा होगा कि कोई भी व्यक्ति किसी दूसरे के अकाउंट में रकम जमा नहीं करवा पाएगा। दूसरा व्यक्ति तभी रकम जमा कर पाएगा, जब उसके पास उस व्यक्ति का एटीएम कार्ड होगा।

Recommend to friends
  • gplus
  • pinterest

About the Author

Leave a comment