जन्मदिन विशेष : जानिए ‘भारतरत्न वाजपेयी’ जी के जीवन से जुड़ी कुछ ख़ास बातें
Reading Time: 6 minutes

-92वें साल के हुए अटल बिहारी वाजपेयी जी

एम4पीन्यूज, चंडीगढ़ 

भारत के पूर्व प्रधानमंत्री और भारत रत्न अटल बिहारी वाजपेयी जी का 25 दिसंबर को जन्मदिन हैं। अटल जी ने अपने व्यवहार से अपने नेताओं का ही नहीं विपक्ष के नेताओंं को भी अपनी और आकर्षित करने में माहिर हैं। अगर किसी को समकालीन “भारतीय राजनीति का ग्रैंड ओल्ड मैन’ पद से सम्मानित करना हो तो पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी सबकी पसंद होंगे। उन्हें भारत की राजनीति का भीष्म पितामह भी कहते हैं।

ऐसा बहुत कम देखने को मिलता है कि किसी भारतीय राजनीतिज्ञ को सच्चा आदमी या अच्छा व्यक्ति कहकर सम्बोधित किया गया हो। अटल जी राजनीति को हमेशा के लिए अलविदा कह चुके है। वह ज्योतिष के भी अच्छे जानकार थे। दूर-दूर से लोग उनको अपनी जन्मपत्री दिखाने के लिए आते थे। आइये जानते हैं उनकी लाइफ से जुड़ी कुछ ऐसी ही दिलचस्प बातें…

'भारतरत्न वाजपेयी' जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

‘भारतरत्न वाजपेयी’ जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

डाकुओं के कुख्यात गांव में हुआ था अटल जी का जन्म :
– अटल जी का जन्म ग्वालियर में हुआ था, लेकिन उनका पैतृक गांव बटेश्वर आगरा के पास है।
– अटलजी का गांव बटेश्वर एक समय में डाकुओं के कारण कुख्यात था और अब यहां के शिव मंदिरों के कारण विख्यात है।
– अटल जी भी कहते हैं कि कविता उन्हें घुट्टी में मिली थी।अटल जी के पिता कृष्ण बिहारी वाजपेयी संस्कृत भाषा और साहित्य के अच्छे विद्वान थे।
– उनके घर की बैठक पुरानी किताबों से भरी हुई थी। वे जहां भी जाते वहां से अच्छी-अच्छी किताबें लेकर आते थे।

लोगो के दिल में आज भी बसते है अटल जी :
– अटल जी अब कम ही बोल पाते हैं क्योकि वह आज बीमारी के चलते बोल नहीं पाते हैं।
– जब वह देश के पीएम थे तो लोग उन्हे सुनने के लिए दूर-दूर से आते थे। लोग उनको सुनना पसंद करतें है।

अटल जी के जीवन की ख़ास बातें :

'भारतरत्न वाजपेयी' जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

‘भारतरत्न वाजपेयी’ जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

1. गांधी जी का प्रभाव :
महात्मा गांधी के प्रबल अनुयायी होने के नाते अटल जी और उनके बड़े भाई ने भारत छोड़ो आंदोलन में भाग लिया और यहाँ तक कि उन्हें 23 दिनों की अवधि के लिए जेल भी भेजा गया था। यही एक घटना थी जिसके माध्यम से अटल जी ने भारतीय राजनीति के पटल पर अपना कदम रखा था। उस समय वह केवल अठारह साल के थे।

'भारतरत्न वाजपेयी' जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

‘भारतरत्न वाजपेयी’ जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

2. महान वक्ता :
हमेशा से एक अच्छे वक्ता रहते हुए, अटल जी ने अपने वक्तृत्व कौशल से जवाहरलाल नेहरू को काफी प्रभावित किया था। यहाँ तक कि नेहरू ने भविष्यवाणी करते हुए कह दिया था कि एक दिन अटल जी भारत के प्रधानमंत्री होंगे।

'भारतरत्न वाजपेयी' जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

‘भारतरत्न वाजपेयी’ जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

3. तीन बार सर्वोच्च पद पर बने :
क्या आपको पता है कि अटल बिहारी वाजपेयी भारत के प्रधानमंत्री के तौर पर एक बार या दो बार नहीं, बल्कि तीन बार नियुक्त हुए। पहली बार तब, जब 1996 में भाजपा लोकसभा के आम चुनाव में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी थी। हालांकि, लोकसभा में बहुमत प्राप्त न कर पाने के कारण उन्होंने 13 दिनों के उपरांत 1996 में अपने पद से इस्तीफा दे दिया था।

'भारतरत्न वाजपेयी' जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

‘भारतरत्न वाजपेयी’ जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

4. प्रधानमंत्री बनने का जारी सिलसिला :
1998 के लोकसभा चुनावों में अटल जी ने अन्य राजनीतिक दलों की मदद से बहुमत साबित किया। और एक बार फिर से वह प्रधानमंत्री नियुक्त किए गए। लेकिन इस सरकार का कार्यकाल मात्र 13 महीने की अवधि तक ही चला और एक बार फिर से 1999 में आम चुनाव हुए। इस बार वह भारत के 10वें प्रधानमंत्री बने और 5 साल की पूरी अवधि के लिए सरकार का गठन किया।

'भारतरत्न वाजपेयी' जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

‘भारतरत्न वाजपेयी’ जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

5. गैर-कांग्रेसी व्यक्ति का पूर्ण कार्यकाल :
अब तक केवल वही ऐसे गैर-कांग्रेसी प्रधानमंत्री रहे है, जिन्होंने 5 साल की पूर्ण अवधि के लिए सरकार गठित की।अब देखना होगा कि इस कड़ी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी क्या छाप छोड़ते है।

'भारतरत्न वाजपेयी' जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

‘भारतरत्न वाजपेयी’ जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

6. प्रदेश का प्रहरी :
अटल बिहारी वाजपेयी 9 बार लोकसभा के लिए चुने गए। यही नहीं, वह दो बार राज्यसभा के लिए भी चुने गए थे। तमाम वजहों में यह भी एक वजह है कि उन्हें भारतीय राजनीति का भीष्म पितामह माना जाता है।

'भारतरत्न वाजपेयी' जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

‘भारतरत्न वाजपेयी’ जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

7. चार अलग-अलग राज्यों से जीत :
क्या आपको पता है कि अटल जी अब तक के मात्र एक ऐसे सांसद हैं, जिन्हें एक साथ चार अलग-अलग राज्यों से निर्वाचित किया गया था। उत्तर प्रदेश, दिल्ली, मध्य प्रदेश और गुजरात वे राज्य थे, जहाँ से उन्हें निर्वाचित किया गया था।

'भारतरत्न वाजपेयी' जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

‘भारतरत्न वाजपेयी’ जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

8. अटल जी ने किया हिंदी का सर्वत्र प्रचार :
वाजपेयी भारत के ऐसे पहले प्रधानमंत्री और विदेश मंत्री थे, जिन्होंने संयुक्त राष्ट्र में हिंदी में भाषण दिया था। क्या अभी भी आपको उनके वक्तृत्व कौशल पर कोई संदेह है?

'भारतरत्न वाजपेयी' जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

‘भारतरत्न वाजपेयी’ जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

9. बिगड़ती सेहत :
अपने बिगड़ते स्वास्थ्य के कारण पिछले दो दशकों में उन्हें 10 सर्जरी का सामना करना पड़ा है। वर्तमान में, महान वक्ता अटलजी पक्षाघात(लकवा) की वजह से बहुत कम बोलते हैं।

'भारतरत्न वाजपेयी' जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

‘भारतरत्न वाजपेयी’ जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

10. अमर कीर्ति विजय पताका :
अटल बिहारी वाजपेयी ने राजनीति में अपना महान कैरियर महात्मा रामचंद्र वीर की ‘अमर कीर्ति विजय पताका’ को समर्पित कर दिया। उनके अनुसार इस कविता ने उनकी ज़िन्दगी बदल दी थी।

'भारतरत्न वाजपेयी' जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

‘भारतरत्न वाजपेयी’ जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

11. पूर्व संपादक :
उनके जीवन से जुड़े कम ज्ञात तथ्यों में से एक यह है कि उन्होंने दो मासिक पत्रिकाओं राष्ट्र धर्म और पांचजन्य में संपादक के रूप में काम किया। इसके अलावा दो दैनिक समाचार पत्रों दैनिक स्वदेश और वीर अर्जुन का संपादन किया।

'भारतरत्न वाजपेयी' जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

‘भारतरत्न वाजपेयी’ जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

12. जब पिता बने सहपाठी :
वैसे, यह वाजपेयी के बारे में एक और दिलचस्प बात है कि वह उन भाग्यशाली लोगों में से है, जिन्होंने अपनी शिक्षा अपने माता-पिता के साथ ग्रहण की। वाजपेयी ने अपने पिता के साथ कानपूर के प्रसिद्ध डीएवी कॉलेज से कानून की डिग्री ली। यह ज़ाहिर है कि जब उनके पिता ने वाजपेयी को दाखिला लेते हुए देखा तो, उनके पिता की भी बेहद रूचि बन गई और उन्होंने भी कानून पढ़ने की प्रबल इच्छा व्यक्त की।

'भारतरत्न वाजपेयी' जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

‘भारतरत्न वाजपेयी’ जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

13. कवि अटल :
यह अटल जी की उन कृतियों में से है, जिसके बारे में लगभग हम सब जानते है। अटल बिहारी वाजपेयी हमारे देश के सर्वश्रेष्ठ समकालीन कवियों में से एक है। इसका उल्लेख किए बिना यह सूची पूरी नहीं होगी। अगर आप कविता में रुचि रखते हैं तो उनकी मेरी इक्यावन कविताएँ ज़रूर पढ़े। हमें पूर्ण विश्वास है कि आप उनके प्रत्येक काव्यसंग्रह को ज़रूर पसंद करते होंगे।

'भारतरत्न वाजपेयी' जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

‘भारतरत्न वाजपेयी’ जी के जीवन से जुड़ी ख़ास बातें

14 . ‘भारतरत्न’ वाजपेयी को भारत का सलाम :
दो साल पहले अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिन यानी 25 दिसंबर 2014 को उन्हें भारत रत्न देने का एलान किया गया। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने उनके आवास पर जाकर देश का सबसे बड़ा नागरिक सम्मान उन्हें दिया था। राष्ट्रपति भवन की ओर से जैसे ही यह ऐलान हुआ, उनको एक के बाद एक बधाई संदेशों का सिलसिला चल पड़ा। उनके साथ ही पंडित मदन मोहन मालवीय को भी भारत रत्न देने का ऐलान हुआ था।

Recommend to friends
  • gplus
  • pinterest

About the Author

news

Truth says it all

Leave a comment