Reading Time: 1 minute
एम4पीन्यूज। 

घाटी में बिगड़ते हालात को देखते हुए चुनाव आयोग ने अनंतनाग में होने वाले लोकसभा उपचुनाव को रद्द कर दिया है। उपचुनाव के लिए 25 मई को मतदान होना था। यह दूसरी बार है जब चुनाव टाले गए हैं। अब आयोग जल्द नई तारिख का ऐलान करेगा। यह फैसला सुनाते हुए आयोग ने कहा है कि फिलहाल घाटी के हालात ठीक नहीं हैं। इससे पहले श्रीनगर इलाके में 9 अप्रैल को उपचुनाव के लिए मतदान हुआ था लेकिन हिंसा की वारदातों को देखते हुए अनंतनाग में उपचुनाव टाल दिया गया था।

30,000 कर्मियों को किया जा सकता है तैनात :
इस पर सरकार ने जवाब देते हुए कहा कि वह 30,000 कर्मियों या अर्धसैनिक बलों की 300 कंपनियों को तैनात करने में सक्षम होगी। जम्मू कश्मीर में मौजूदा हालात को देखते हुए उप-चुनाव को रद्द करने का फैंसला लिया गया है।

चुनाव आयोग ने केंद्रीय गृह मंत्रालय से कहा है कि उसे 747 कंपनियां चाहिए जो 12 मई तक उसे मिल जानी चाहिए ताकि तैनाती हो सके। एक कंपनी में 100 सुरक्षाकर्मी होते हैं। चुनाव आयोग की ये मांग इसलिए अद्भुत है क्योंकि हाल में पांच राज्यों में चुनाव खत्म हुए हैं और सभी राज्यों में कुल मिलाकर 70000 सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए थे। सिर्फ उत्तर प्रदेश में 403 विधानसभा की सीटें हैं और 80 लोकसभा की।

Recommend to friends
  • gplus
  • pinterest

About the Author

Leave a comment