Reading Time: 2 minutes
एम4पीन्यूज़|चंडीगढ़

मुद्दा और मुद्दों पर बातें उठनी तो आम बात है, लेकिन यहां बात हो रही है 2014 के दौरान चंडीगढ़ से चेहरा बनीं मॉडल व एक्टर और अब पॉयलट गुल पनाग की।

गुल पनाग अाप के नेतृत्व में चंडीगढ़ में रैली के दौरान चंदा भी इकट्ठा करतीं थीं। अपने चंडीगढ़ अाप के टि्वटर हैंडल पर अॉफिशियल पोस्ट भी किया कि रैली ग्राऊंड में से 41000 रुपए बतौर चंदा एकत्र किए गए।

AAP DONATIONS

AAP DONATIONS

इलेक्शन हुए, गुल पनाग चंडीगढ़ से गुल हो गईं और उसके बाद जिन लोगों ने उन्हें वोट किया था या जिन लोगों ने उन्हें चंदा दिया था, उनमें से किसी के लिए भी नैतिक तौर पर ही सही, कभी शहर में किसी भी मुद्दे को लेकर नजर नहीं आईं।

इस बात पर चंडीगढ़ के लोग तो गर्माए ही हुए हैं साथ में अागामी पंजाब इलेक्शन 2017 के लिए प्रत्याशियों के सामने भी यह सवाल लोग खड़ा कर रहे हैं अाप लोग अाते हैं, खुद को चुनाव खर्चे में असमर्थ बता जनता से रुपए बटौरते हैं और इतनी भी शालीनता या नैतिकता नहीं हैं कि दोबारा उन लोगों के लिए शहर में काम करते दिखाई दे जाए।

इस पर मीडिया4पिल्लर की तरफ से जब अाप के प्रत्याशी सुखपाल खैहरा से बात की गई तो उन्होंने कहा कि मैं इस पर टिप्पणी करना वाजिब नहीं समझता, मैं खुद एक प्रत्याशी हूं, इस पर बेहतर जवाब संजय सिंह दे सकते हैं।

इस पर असिस्टेंट मीडिया एडवाइजर विनीत जोशी ने कहा कि ये लोग वो हैं जो कहीं भी चुनाव में जब हार का सामना करते हैं तो भागने के अलावा कुछ नहीं करते।वाराणसी से दोबारा दिखाई नहीं पड़े, चंडीगढ़ से हारे और गुल हो गए। इनका काम ही यही है लोगों से पैसे एंठना और गुल हो जाना। सभी सियासी गलियारों से लेकर पंजाब के लोग भी इनका सच जान चुके हैं ये यहां सिर्फ मुंह की खाने ही आए हैं।

Recommend to friends
  • gplus
  • pinterest

About the Author

Leave a comment