खुद पुरुषों को भी इस बारे में कोई जानकारी नहीं है कि था उनका दिन….जानिए क्या है अाज
Reading Time: 1 minute
एम4पीन्यूज, ंचंडीगढ़

वुमन्स डे पर हर जगह चहल पहल होती है। बाज़ारों में रौनक, नए – नए ऑफर्स, जश्न और न जाने किस किस तरीके से वुमन्स डे को सेलिब्रेट किया जाता है। लेकिन बात अगर मेन्स डे की बात की जाए तो इसका कही अता-पता भी नहीं। मेन्स डे आया और कब निकल जायेगा, इस बारे में शायद किसी को पता भी न चले। अब इसे नोटबंदी की मार कहे या फिर मर्दो की बदकिस्मती।
इंटरनेशनल मेन्स डे होते हुए भी न तो मार्किट में भी कही चहल पहल है और न ही कही रौनक। आस-पास के लोगों को भी इस बारे में कुछ नहीं पता। हालांकि सोशल मीडिया के जरिये इंटरनेशनल मेन्स डे की बधाइयां बट रही हैं। लेकिन असल ज़िन्दगी में इसका कही कोई नामो निशाँ नहीं है। खुद पुरुषों को भी इस बारे में कोई जानकारी नहीं है।

अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस का सेलिब्रेशन :
आज पूरी दुनिया में अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस मनाया जा रहा हैं। इसकी शुरुआत 1999 में त्रिनिदाद और टौबेगो में हुई थी। तब से प्रत्येक वर्ष 19 नवंबर को यह दिवस दुनिया के 30 से अधिक देशों में मनाया जाता है। भारत में पहली बार इसकी शुरुआत 19 नवंबर 2007 में हुई थी। पुरुष अपने परिवार, देश, दोस्तों के लिए पति, बेटे और पिता के रूप में प्रत्येक दिन कई बलिदान करते हैं। अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस समाज में पुरुषों द्वारा किये जा रहे त्याग व बलिदान की सराहना का दिवस है।

क्या है उद्देश्य? :
अंतर्राष्ट्रीय पुरुष दिवस का उद्देश्य, लिंग संबंधों में सुधार, लैंगिक समानता को बढ़ावा देने, और सकारात्मक पुरुष मॉडल की भूमिका पर प्रकाश डालना है। पुरुषों और लड़कों के स्वास्थ्य पर ध्यान देना इसमें शामिल है। इस दिवस का उद्देश्य पुरुषों के खिलाफ भेदभाव पर प्रकाश डालना है।

Recommend to friends
  • gplus
  • pinterest

About the Author

Leave a comment