Reading Time: 2 minutes

-जल्द नजर आएगी सौरभ वन विहार में कारगिल युद्ध की गाथा

एम4पीन्यूज, चंडीगढ़ 

कारगिल शहीद कैप्टन सौरभ कालिया के नाम पर बना सौरभ वन विहार के दिन फिरने वाले हैं। यहां प्रदेश का सबसे बड़ा कृत्रिम एक्वेरियम पर्यटकों के स्वागत के लिए तैयार है, जिसमें विभिन्न किस्मों की रंग-बिरंगी मछलियां आपका स्वागत करेंगी। चंडीगढ़ के रॉक गार्डन की तर्ज पर वन विहार में भी 39 लाख की लागत से रॉक गार्डन स्थापित किया जा रहा है जिसमें कारगिल युद्ध का दृष्य बनाया जाएगा।

एक्वेरियम स्थापित करने के लिए भवन तैयार हो चुका है। इसमें शीशे के कुल 24 बॉक्स रखे जाएंगे। इनमें से 16 बॉक्स 4 फुट और 8 बॉक्स 6 फुट के होंगे। स्थानीय लोगों में कृत्रिम एक्वेरियम को लेकर काफी उत्साह है। जनवरी माह में कृत्रिम एक्वेरियम और रॉक गार्डन लोगों के लिए खोल दिया जाएगा। इस कार्य के लिए सांसद शांता कुमार खुद दिलचस्पी ले रहे हैं। तैयार होने के बाद यह गार्डन सैलानियों के आकर्षण का केंद्र होगा। अभी सौरभ वन विहार में चीड़ के पेड़ों व पत्थरों के बीच सुंदर रास्तों, बागीचों व एक कृत्रिम झील का ही निर्माण हुआ है। अब रॉक गार्डन का निर्माण होने से यह बेहद आकर्षक हो जाएगा।

आकर्षक होगा रॉक गार्डन :
सौरभ वन विहार में प्राकृतिक रूप से बने बड़े पत्थर मौजूद हैं। ऐसे में इनके बीच कारगिल युद्ध की गाथा एक रॉक गार्डन के रूप में आकर्षक नजर आएगी। वन विभाग की यहां बनी झील से आगे एक कृत्रिम वाटर फॉल व छोटी नहर बनाने की भी योजना है।

पर्यटन मंत्रालय भी होगा मेहरबान :
सौरभ वन विहार पर केंद्रीय पर्यटन मंत्रालय भी मेहरबान होगा। इसके लिए केंद्रीय पर्यटन मंत्रालय की टीम भी यहां का दौरा कर गई है। मंत्रालय इस विहार के लिए दो करोड़ की मदद करेगा। मंत्रालय की टीम यहां की व्यवस्था व स्थान से खुश थी।

Recommend to friends
  • gplus
  • pinterest

About the Author

Leave a comment