Reading Time: 2 minutes
एम4पीन्यूज। 

लॉस एंजेलिस में आयोजित हुए विश्व प्रसिद्ध ऑस्कर अवॉर्ड के आयोजन में एक खास प्रस्तुति उन अभिनेताओं के लिए रखी गई जो हमारे बीच नहीं रहे। 89वें ऑस्कर अवॉर्ड में बॉलिवुड के दिवंगत अभिनेता ओम पुरी को भी श्रद्धांजलि दी गई। सबसे बड़ी बात यह थी कि ऑस्कर समारोह में ओम पुरी को हॉलिवुड ऐक्टर के तौर पर याद किया गया। बतादें कि साल की शुरुआत में ही 6 जनवरी को बॉलिवुड के महान अभिनेता ओम पुरी का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था। वहीं हॉलिवुड के दिग्गज अभिनेता बिल पेक्सटन का निधन 26 फरवरी को हुआ था।

ऑस्कर अवार्ड में दुनिया से विदा हो चुके महान अभिनेताओं को श्रद्धांजली देने की इस खास प्रस्तुति की उद्घोषणा अभिनेत्री जेनिफर एनिस्टन ने की, बिल पेक्सटन के बारे में बात करते हुए वह भावुक हो गईं थीं। ओम पुरी ने हॉलिवुड फिल्म ‘घोस्ट’ और ‘डार्कनेस’ में काम किया था, जिन्हें आज भी बेहतरीन फिल्मों में शुमार किया जाता है। अभिनेता ओम पुरी के निधन पर बॉलिवुड के तमाम सितारों सहित पीएम मोदी ने भी शोक जताते हुए ट्वीट किया था। ओम पुरी के निधन से ठीक पहले उनकी फिल्म ‘रामभजन जिंदाबाद’ के प्रड्यूसर खालिद किदवई ने उनसे बात की थी। खालिद फिल्म के प्रमोशन के सिलसिले में उनसे मिले थे।

नवभारतटाइम्स डॉट कॉम से बातचीत में ओम पुरी ने कहा था, ‘जब मैं दुनिया छोड़ दूंगा, तब मेरा योगदान सामने आएगा, मैंने इतना काम किया लेकिन उसके बाद भी मैं बॉलिवुड के तीनों खान जैसी उपलब्धि हांसिल नहीं कर पाया।’ अपनी खास तरह की अभिनय शैली के लिए मशहूर ओम पुरी का रुझान सामाजिक मुद्दों वाली फिल्मों की तरफ ज्यादा था। वह पिछले काफी समय से किसानों की समस्याओं से जुड़ी बातों को हर मंच पर कहते थे। ओम पुरी ने ‘आक्रोश’, ‘अर्धसत्य’, ‘धारावी’, ‘मिर्च मसाला’ ‘जाने भी दो यारों’, ‘चाची 420’, ‘हेराफेरी’, ‘मालामाल वीकली’ जैसी तमाम बेहतरीन फिल्मों में काम किया था। ओम पुरी ने छोटे परदे पर भी ‘कक्काजी कहिन’, ‘मिस्टर योगी’ और ‘तमस’ जैसी बेहतरीन सीरियल में काम किया था।

Recommend to friends
  • gplus
  • pinterest

About the Author

Leave a comment