Reading Time: 1 minute
एम4पीन्यूज ।

शादी के बाद हर किसी का सपना होता है कि उसके घर में नन्हें-मुन्ने की किलकारियां गूंजे। उसका भी अपना एक परिवार हो। ऐसे में गर्भवती महिला के लिए सब सुविधाओं का ध्यान रखा जाता है ताकि डिलिवरी के समय उसे अपने इलाके से दूर ना जाना पड़े लेकिन मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से 70 कि.मी की दूरी पर सांका जगीर नाम का एक गांव बसा है जो राजगढ़ में है। इस गांव में एक हैरान करने वाली बात यह है कि यहां पर 50 सालों से किसी बच्चे ने जन्म नही लिया।

यहां रहने वाले लोगों का यह विश्वास है कि अगर कोई बच्चा इस गांव की सीमा के अंदर पैदा होगा तो वह या तो शारीरिक तौर पर ठीक नही रहेगा और या उसकी मृत्यु हो जाएगी। जब गांव की कोई औरत बच्चे को जन्म देने वाली होती है तो उसे गांव की सीमा के बाहर बनाए एक कमरे में ले जाया जाता है और उसकी डिलिवरी की जाती है।
इस बारे में लोगों का कहना है कि गांव में श्यामजी का एक मंदिर था और इसकी पवित्रता को बनाए रखने के लिए ही बजुर्गों ने यह फैसला लिया की औरतों की डिलीवरी गांव से बाहर की जाए और तब से आज तक गांव के लोग इस फरमान को मानते आ रहे हैं। इस गांव के सरपंच का भी यही कहना है कि उसकी उम्र 50 साल से भी ज्यादा है और उसने कभी भी गांव में किसी बच्चे का जन्म लेने के बारे में नही सुना।

Recommend to friends
  • gplus
  • pinterest

About the Author

Leave a comment