योगीराज की सरकार : साल भर से अगवा 27 लड़कियों को 72 घंटे में ढूंढा
Reading Time: 2 minutes
एम4पीन्यूज| 

उत्तर प्रदेश में योगीराज के चलते यूपी पुलिस भी काम करने में सक्षम हो गई है , इसका एक उदाहरण शाहजहांपुर में देखने को मिला। जहां शीर्ष अधिकारी से एक सख्त निर्देश मिला और रातोंरात शाहजहांपुर पुलिस ने दर्जनों लापता लड़कियों को ढूंढ निकाला। एसपी सिटी केबी सिंह ने इलाके के दर्जनों पुलिसवालों को अलग-अलग थाना क्षेत्रों से गायब हुईं 39 लड़कियों के पेंडिंग मामलों को निपटाने को लेकर चेतावनी दी और नतीजा यह रहा कि कुछ घंटों में 27 लड़कियां खोज निकाली गईं।

पुलिसवालों के लिए ‘करो या मरो’ का सख्त संदेश अभी भी जारी :
बता दें कि महज 72 घंटों में 27 लड़कियों को ढूंढ निकाला गया और अन्य 12 की तलाश अभी जारी है। इस इलाके में पुलिसवालों के लिए ‘करो या मरो’ का सख्त संदेश है। काम में कोताही के कारण 8 सब इंस्पेक्टरों का पहले ही पुलिस लाइन्स में तबादला किया जा चुका है और समान रैंक के 24 अन्य को 48 घंटों के भीतर बेहतर प्रदर्शन करने के लिए कहा गया है।

लापता युवतियों के 39 मामले खड़े थे पेंडिंग :
शाहजहांपुर इलाके में धारा 363(किडनैपिंग) और 366(किडनैपिंग, शादी के लिए मजबूर किए जाने) के तहत 39 मामले पेंडिंग पड़े थे। लड़कियों के परिजन बार-बार उन्हें खोज निकालने के लिए शिकायतें लेकर आते थे। इनमें से ज्यादातर मामले 2016 से पेंडिंग पड़े थे, इनमें एक नाबालिग लड़की का भी मामला था, जो 2015 से पेंडिंग है। केबी सिंह से चेतावनी मिलने के बाद नाबालिग लड़की की तलाश तेज कर दी गई और उसे सुरक्षित रेस्क्यू कर लिया गया। मामला रोजा थानाक्षेत्र का था।

जानिए कैसे चला पुलिस का यह अॉप्ररेशन :
पुलिस ने आसपास से ही नहीं, बल्कि दूर के इलाकों से भी लड़कियों को खोज निकाला। दो लड़कियों को यहां से 30 किमी की दूरी से बचाया गया, तीन को 55 किमी दूर कालन से बरामद किया गया। वहीं, एक लड़की को चंडीगढ़ से वापस लाया गया और दो को इलाहाबाद से। अधिकारियों ने बताया कि इन मामलों को सुलझाने के लिए पुलिसवालों पर पूरी छूट दी गई थी। उन्हें कहा गया था कि जल्द से जल्द इन लड़कियों को खोजकर इनके घरवालों तक पहुंचाया जाए।अपना नाम न जाहिर करने की शर्त पर एक अधिकारी ने बताया, ‘बचाई गईं ज्यादातर लड़कियां नाबालिग हैं। इनमें से कई अपनी मर्जी से घर से भागी थीं और अपनी पसंद के लड़के से शादी रचाना चाहती थीं। जिन लड़कों के साथ ये भागीं थीं, उनके खिलाफ भी नाबालिग की किडनैपिंग का केस दर्ज किया जाएगा।’

Recommend to friends
  • gplus
  • pinterest

About the Author

Leave a comment