Reading Time: 2 minutes
एम4पीन्यूज।

शादी समारोह से किया किडनैप, जनाजे में उमड़ी भीड़

कश्मीर के शोपियां में बुधवार सुबह एक आर्मी अफसर का शव बरामद हुआ है. लेफ्टिनेंट उमर फयाज़ पैरी को मंगलवार रात को आतंकवादियों के द्वारा किडनैप किया गया था, जिसके बाद अब शोपियां जिले की हरमेन चौक से उनका शव मिला है. पुलिस इस मामले की जांच-पड़ताल में जुट गई है. उमर फयाज़ के शरीर पर गोलियों के निशान भी हैं. उमर फयाज़ पैरी शोपियां के ही रहने वाले थे, वे आर्मी में डॉक्टर थे. उन्हें उनके घर से ही किडनैप किया गया था.

अगले महीने है जन्मदिन
आपको बता दें कि लेफ्टिनेंट उमर फयाज़ का जन्म 8 जून, 1994 हुआ था. उमर फयाज़ राजपूताना रायफल्स का हिस्सा थे. वह 10 दिसबंर 2016 को ही इस जगह पोस्ट हुए थे. बताया जा रहा है कि वह अपने किसी रिश्तेदार के यहां शादी समारोह में गये थे. जिसके बाद करीब रात 10 बजे उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया था.

बता दें कि 1 मई को जम्मू के मेंढर सेक्टर में पाकिस्तान की तरफ से फायरिंग की गई. इस हमले में भारत के दो जवान शहीद हो गए. जिसके बाद भारतीय सेना ने भी पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दिया.

बैंक की वैन पर भी किया था हमला
बता दें कि हाल ही में बॉर्डर पर हमले के अलावा दोपहर को जम्मू एवं कश्मीर के कुलगाम जिले में आतंकवादियों ने एक नकदी वैन पर हमला कर दिया और पांच पुलिसकर्मियों व एक बैंककर्मी की हत्या कर दी थी. यह घटना कुलगाम के पोमबई गांव में हुई, जब अज्ञात संख्या में आतंकवादियों ने जम्मू एवं कश्मीर बैंक की नकदी वैन को निशाना बनाया था.

आर्मी चला रही थी सर्च ऑपरेशन
गौरतलब है कि पिछले कुछ समय से लगातार कश्मीर में हालात बिगड़ते जा रहे हैं. हाल ही में घाटी में लगातार पुलिस और सेना के जवानों पर हमले से परेशान आर्मी ने अब एक बड़ा अभियान छेड़ा था. इस दौरान सुरक्षाबलों ने घर-घर जाकर आतंकवादियों की तलाश कर रहे थे. इसके तहत आर्मी ने लगभग 20 गांवों को घेर लिया था. इस ऑपरेशन में लगभग 4000 से ज्यादा जवान लगे हैं. कहा जा रहा है कि 1990 के बाद यह आर्मी का कश्मीर में सबसे बड़ा ऑपरेशन है.

Recommend to friends
  • gplus
  • pinterest

About the Author

news

Truth says it all

Leave a comment